विपक्ष के कभी मंसूबे नहीं होंगे पूरे, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर दिल्ली से लौटते ही पुराने तेवर में दिखे

दिल्ली दौरे से लौटते ही CM जयराम ठाकुर ने अपने पुराने तेवर दिखाए हैं। बेशक जयराम ठाकुर विपक्ष के नेताओं पर सीधा हमला करने से बचते रहे, परन्तु यह साफ कर दिया कि उनके दिल्ली दौरों पर कयास लगाने वालों के सपने अब पूरे नहीं होने वाले। आपको बता दे की दिल्ली से CM जयराम ठाकुर बुधवार को दोपहर के बाद सीधे सचिवालय पहुंचे साथ ही गेट पर मीडिया के सवालों का जवाब दिया। CM जयराम ठाकुर ने कहा कि वह 25 दिन पहले से ही तय भाजपा की बैठक में शामिल होने गए थे। और इसमें संगठन के विषयों पर चर्चा थी। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव, उपचुनावों और स्वर्णिम रथयात्रा के विषयों पर चर्चा हुई है।

 बता दे की इस बैठक में मंत्रिमडल के फेरबदल तथा अन्य विषयों पर कोई भी बात नहीं हुई। न ही ऐसी कोई भी गंुजाइश थी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पहले से ही तय किया था कि पूर्व राज्यत्व की स्वर्ण जयंती कार्यक्रमों में एक कार्यक्रम विधानसभा के विशेष सत्र का भी इसमें होगा, और इसलिए राष्ट्रपति को निमंत्रण देने वह गए। और उन्होने इस निमंत्रण को स्वीकार करने के लिए राष्ट्रपति Ram Nath Kovind का आभार जताया। हिमाचल के CM जयराम ठाकुर ने कहा कि दरअसल यह पल हिमाचल प्रदेश के हर नागरिक का है, क्योंकि राज्य को बनाने में हर एक व्यक्ति और हर सेक्टर का योगदान है। और उनके दिल्ली दौरों को नेतृत्व परिवर्तन के रूप में प्रचारित किया जा रहा है।

Leave a Comment