एक बार फिर मुसीबत में kangana- आगरा में लगा देशद्रोह का आरोप, 25 नवंबर को कोर्ट करेगा सुनवाई

बीते दिनों से Actress kangana ranaut आज़ादी को लेकर अपने बयान के कारण से सुर्खियों में आ गई थी. बता दे की kangana ranaut के बयान के बाद कई लोगों ने उनके इस बड़बोलेपन का काफी विरोध किया था. और अब आगरा में भी विरोध सामने आया है. आपको बता दे की आगरा के एक अधिवक्ता ने भारत देश को 1947 में मिली आजादी को भीख बताने के आरोप में Bollywood actress Kangana Ranaut और Prime Minister Narendra Modi के खिलाफ एक परिवाद पत्र दाखिल किया है. अधिवक्ता ने आजादी को भीख बताने को लेकर राष्ट्रद्रोह के आरोप में वाद दाखिल किया है परन्तु इस मामले में CJM ने मामले की सुनवाई के लिए 25 नवंबर की तारीख नियत की है.

अराजकता का माहौल फैरा रही हैं देश में

आगरा की New Lawyers Colony निवासी Advocate Ramashankar Sharma ने अदालत में अधिवक्ता बीएस फौजदार के माध्यम से बॉलीवुड Bollywood actress Kangana Ranaut और Prime Minister Narendra Modi के खिलाफ कोर्ट में परिवाद दाखिल किया है. और जिसमें उन्होंने यह आरोप लगाया है कि प्रार्थी ने 17 नवंबर 2021 को दैनिक समाचार पत्रों व चैनलों में अभिनेत्री Kangana Ranaut के द्वारा Father of the Nation Mahatma Gandhi के प्रति अपशब्द कहकर देश में अराजकता का माहौल पैदा करने की पोस्ट को देखा व पड़ा. और इसमें अभिनेत्री का बयान ‘आजादी भीख में मिली थी’ भी शामिल था. और इसके अलावा अहिंसा के सिद्धांत का भी उपहास उड़ाया गया. अधिवक्ता रमाशंकर शर्मा ने बताया कंगना के इतने बड़े बयान के बाद Prime Minister Narendra Modi चुप रहे, और उन्होंने कोई भी एक्शन नही लिया. और इसके कारण ही इसमें PM Narendra Modi को भी शामिल किया गया है. Kangana ने अहिंसा के सिद्धांत का काफी मज़ाक उड़ाया है.

यह भी पढ़े : KANGANA RANAUT के बयान से खफा हुये दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति , पुलिस में दर्ज कराई शिकायत

गौरतलब है कि Kangana Ranaut ने कुछ दिनों पहले यह कहा था कि भारत को आज़ादी भीख में मिली थी. और इस पर कई लोग उनसे नाराज़ हो गए थे और उन पर कार्रवाई की मांग करने लगे थे.

सोर्स : news18.com

Leave a Comment