You are here
Home > Himachal news > हिमाचल प्रदेश में सवा लाख से अधिक राशनकार्ड ब्लॉक हो सकते हैं , जानिए इसकी वजह

हिमाचल प्रदेश में सवा लाख से अधिक राशनकार्ड ब्लॉक हो सकते हैं , जानिए इसकी वजह

हिमाचल प्रदेश में सस्ता राशन कोटा न लेने वाले एक लाख से अधिक राशनकार्डों को सरकार ब्लॉक कर सकती है। हिमाचल प्रदेश में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने लगभग 1,30,829 ऐसे राशनकार्ड उपभोक्ताओं की सूची बनाई है, जिन्होंने पिछले छह महीने से सस्ता राशन नहीं लिया है।

अब सरकार इन राशनकार्डों को डिफाल्टर सूची में डालेगी। अगर दोबारा इन उपभोक्ता को राशन लेना होगा तो उन्हें पहले अपने ब्लॉक हुए कार्ड खुलवाना होगा। खाद्य आपूर्ति मंत्री किशन कपूर के गृह कांगड़ा जिला में सबसे अधिक 26,414 राशन कार्ड हैं, जो अधिक समय से उपयोग नहीं किये गए हैं।

राशन कार्ड एक्टिव

हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के अलावा हिमाचल के अन्य जिलों में जैसे – शिमला जिले में 25,148, मंडी में 23,822, ऊना में 11,173, सोलन में 10,015, हमीरपुर में 9,381, चंबा में 7,074, कुल्लू में 6,381, बिलासपुर में 6,353 और सिरमौर में 5,068 सभी जिलों के राशनकार्ड उपभोक्ताओं की सूची बनाई है, जिन्होंने छह महीने से अपने राशनकार्ड पर राशन नहीं लिया है।

हिमाचल प्रदेश में अभी 17046,349 राशन कार्ड एक्टिव हैं, जो डिपुओं से राशन समय समय पर ले रहे हैं। अब खाद्य एवं आपूर्ति विभाग जिला कांगड़ा के डीएफएससी नरेंद्र धीमान ने कहा जिन्होंने छह महीने से लगातार राशन कोटा न लेने वाले उपभोक्ताओं के राशन कार्ड ब्लॉक कर दिया जाएंगे।

Similar Articles

Top