खुंभ अनुसंधान निदेशालय सोलन ने में उगाई एक लाख रुपए किलो बिकले वाली मशरूम
You are here
Home > Himachal news > खुंभ अनुसंधान निदेशालय सोलन ने में उगाई एक लाख रुपए किलो बिकले वाली मशरूम, अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में सबसे ज्यादा डिमांड

खुंभ अनुसंधान निदेशालय सोलन ने में उगाई एक लाख रुपए किलो बिकले वाली मशरूम, अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में सबसे ज्यादा डिमांड

Himachal Pradesh Solan: खुंभ अनुसंधान निदेशालय सोलन ने एक ऐसी प्रजाति Mushroom की तैयार करने में सफलता प्राप्त की है, जिसकी कीमत सुन कर आप सब हैरान रह जायेगे। इस मशरूम कीमत एक लाख रुपए  प्रति किलो है। बता दे की कीड़ा जड़ी मशरूम को विकसित कर उत्पादकों को भी इसका प्रशिक्षण दिया गया है, और जिसके कफी बेहतरीन परिणाम सामने आ रहे हैं। इस औषधीय मशरूम की राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में बहुत डिमांड है और इसे सूखाने के बाद ही बेचा जाता है। शनिवार को DMR में आयोजित राष्ट्रीय मशरूम मेले में भी कोर्डिसेप सभी के लिए आकर्षण का केंद्र बनी रही और इस सभी इसकी जानकारी जुटाते रहे। वैज्ञानिकों केअनुसार यह मशरूम मनुष्य के शरीर में रोगों से लडऩे की ताकत को बढ़ाती है।

इसके साथ ही यह थकान मिटाने में व स्टेमिना बढ़ाने में भी यह कारगर है। और यही कारण है कि चीन के खिलाड़ी इसे बड़े पैमाने पर इस्तेमाल करते हैं। मशरूम मेले में अलगीगढ़ से आए लोकेश ने यह बताया कि उन्होंने कीड़ा जड़ी मशरूम लगाई है,परन्तु मशरूम लगाने के बाद अब इसकी मार्केट करना काफी मुश्किल हो रहा है। डीएमआर विशेषज्ञों ने उन्होंने राय दी है कि कीड़ा-जड़ी मशरूम सबसे महंगी मशरूम है। उधर, पटना से आई उत्पादक जनक किशोरी ने बताया कि उन्होंने कोविड के बीच Online Mushroom उगाने का प्रशिक्षण लिया था। मार्केट के अनुसार कोर्डिसेप सबसे महंगी बिकने वाली Mushroom है। और इसकी कीमत करीब एक लाख रुपए प्रति किलो है।

Advertisement

Similar Articles

Top
error: Content is protected !!