Kinnaur Landslide ने देवदूत बनकर पहुंचे जवान, मलबे में दबे हुए व्यक्ति की बचा ली जान
You are here
Home > Himachal news > Kinnaur Landslide ने देवदूत बनकर पहुंचे जवान, मलबे में दबे हुए व्यक्ति की बचा ली जान

Kinnaur Landslide ने देवदूत बनकर पहुंचे जवान, मलबे में दबे हुए व्यक्ति की बचा ली जान

Kinnaur Landslide: हिमाचल प्रदेश के जिला किन्नौर में नेशनल हाईवे-5 पर निगुलसेरी के पास हुए भूस्खलन में बस समेत कई वाहन मलबे में दब गए हैं। National Disaster Response Force, Indo-Tibetan Border Police, सेना, पुलिस और सथानीय लोग रेस्क्यू में जुटे हुए हैं। और अभी तक दो शव बरामद किए गए हैं और जबकि 10 लोगों को सुरक्षित रेस्क्यू किया गया है। बता दे की इस रेस्क्यू में जुटे सभी जवानों ने मलबे में दबे एक शख्स को कड़ी मशक्कत के दोवारा बचाया है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

Advertisement

पहाड़ी से लगातार चट्टानें गिर रही हैं। और जिस कारण इस  रेस्क्यू में दिक्कत आ रही है। ITBP के प्रवक्ता विवेक पांडे ने बताया कि निगुलसेरी में नेशनल हाईवे-5 पर भूस्खलन घटनास्थल पर ITBP की तीन बटालियन के करीब 200 जवान हैं। और पहाड़ी से लगातार चट्टानें गिर रही हैं। और रेस्क्यू टीम करीब एक घंटे से भूस्खलन के रुकने का इंतजार कर रही है। इसमें लगभग  40 लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है।

हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि निगुलसेरी, किन्नौर में भूस्खलन होने से मलबे में वाहनों के दबने का समाचार सुनकर में बहुत दुखी हूं। हमने किन्नौर प्रशासन को राहत-बचाव कार्य के निर्देश दे दिए हैं। और मलबे में दबे लोगों को सुरक्षित निकालने के हरसंभव तरह का प्रयास किया जा रहा हैं।

और इसके साथ ही गृह मंत्री अमित शाह ने जयराम ठाकुर से फोन पर बात की और वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी ली। बता दे की गृह मंत्री ने फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए और स्थिति का जायजा लेने के लिए ITBP के महानिदेशक से भी बात की।

Advertisement

Similar Articles

Top
error: Content is protected !!