ITI Hamirpur में खाली रह गईं 70 फीसदी सीटें, - जानिए क्या है कारण
You are here
Home > hamirpur > ITI हमीरपुर में खाली रह गईं 70 फीसदी सीटें, – जानिए क्या है कारण

ITI हमीरपुर में खाली रह गईं 70 फीसदी सीटें, – जानिए क्या है कारण

तकनीकी शिक्षा को लेकर युवाओं में रुझान अब कम हो रहा है। industrial training institutes में कम दाखिले इस बात की ओर इशारा कर रहे हैं। ITI हमीरपुर में सत्र 2022-23 में 70 फीसदी से अधिक सीटें खाली रह गई हैं। और इस बार 30 फीसदी सीटें ही भरी जा सकी हैं।परन्तु, खाली सीटों को भरने के लिए संस्थान प्रबंधन ने इस बार रविवार को सार्वजनिक अवकाश के बावजूद संस्थान पहुंचकर दाखिले की प्रक्रिया को जारी रखा। लेकिन इसके बावजूद संतोषजनक परिणाम सामने नहीं आए। प्रदेश भर के अन्य तकनीकी संस्थानों की भी इस बार स्थिति खराब है।

Advertisement

ITI Hamirpur ने अब खाली सीटों को भरने के लिए 9 सितंबर से 12 सितंबर तक स्पॉट राउंड दाखिले करवाने का निर्णय लिया है, ताकि दाखिलों का यह आंकड़ा कम से कम 50 फीसदी को छू सके।लेकिन , निदेशालय की ओर से दसवीं कक्षा का Cbse Board Exam का परिणाम देरी से आने के कारण दाखिला तिथि को बढ़ाया गया था,परन्तु  जिला प्रशिक्षण संस्थान में संचालित सभी ट्रेडों में 172 सीटों के मुकाबले महज 51 सीटें ही भरी जा सकीं।परन्तु , विभिन्न ट्रेड में 121 सीटें खाली चल रही हैं।यदि  दाखिलों का आंकड़ा नहीं बढ़ा तो ऐसे संस्थानों को बंद करने की नौबत तक आ सकती है। तकनीकी शिक्षा निदेशालय के निर्देशानुसार विद्यार्थियों की नियमित कक्षाएं 15 सितंबर से शुरू होंगी।

ITI में बीते सत्र की अपेक्षा इस सत्र में विभिन्न ट्रेडों में बहुत सी सीटें खाली रह गई हैं। इन्हें भरने के लिए नौ सितंबर से स्पॉट दाखिले शुरू होंगे। इसके लिए नौ सितंबर को दसवीं कक्षा में 70 फीसदी अंक, 10 सितंबर को 55 से 60, 11 सितंबर को 50 से 55, 12 सितंबर को 50 से 70 फीसदी अंक वाले अभ्यर्थी दाखिला ले सकते हैं। -सुभाष चंद, प्रधानाचार्य आईटीआई हमीरपुर

यह भी पढ़े : भाजपा टिकट बांटने के लिए परिवारवाद पर सख्त रहेगी – लेकिन उम्र में दे सकती है रियायत

Advertisement

Similar Articles

Top
error: Content is protected !!