You are here
Home > Himachal news > Tokyo Paralympics: – अपने घर हिमाचल पहुंचे सिल्वर मेडेलिस्ट Nishad Kumar, परिजनों से मिले तो छलके आसूं

Tokyo Paralympics: – अपने घर हिमाचल पहुंचे सिल्वर मेडेलिस्ट Nishad Kumar, परिजनों से मिले तो छलके आसूं

Tokyo Paralympics में भारत को सिल्वर पदक जिताने और दुनिया में अपने देश और हिमाचल प्रदेश का नाम चमकाने वाले निषाद कुमार आज शुक्रवार को अपने घर जिला Una पहुंच गए हैं. ऊना जिले के अंब उपमंडल के निषाद कुमार का यहां पहुंचने पर धुसाड़ा से लेकर अभी तक सात जगह उनका भव्य स्वागत किया गया. यहाँ तक की लोगों ने घर में जश्न मनाया और बधाइयां देने वालों का जमड़ा लगा हुआ है.

बता दे की निषाद कुमार की जीत की खुशी में परिजनों और लोगों ने भंगड़ा डालकर स्वागत किया. और इस दौरान अपने परिजनों से मिलकर निषाद कुमार के आंसू छलक पड़े. निषाद कुमार को Himachal Government ने एक करोड़ रुपये इनाम देने का भी ऐलान किया है. Nishad Kumar ने लंबी और ऊंची कूद के साथ दौड़ स्पर्धाओं में भी अव्वल रहा है. निषाद का बचपन में ही हाथ मशीन में आने से कट गया था.

Paralympics में Nishad Kumar ने टी-47 कैटेगरी में 2.09 मीटर जंप के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया. निषाद कुमार ने इसी साल दुबई में हुई फाजा विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री में हाई जंप टी-47 कैटेगिरी में भी गोल्ड मेडल जीता था. और साथ ही आपको बता दें कि Tokyo Paralympics में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाले निषाद कुमार हिमाचल प्रदेश के ऊना जिला के उपमंडल अंब के छोटे गांव बदाऊं के रहने वाले हैं. निषाद कुमार 22 वर्षीय  ने Asian Championship में भी रिकॉर्ड बनाया हैं. और उन्होंने पैरालिंपिक खेलों की शुरुआत से पहले बेंगलुरु के कोचिंग कैंप में महीनों तक कड़ी मेहनत की थी.

Similar Articles

Top