You are here
Home > shimla > Himachal Pradesh Budget 2020 में नौकरियां, न्यू पेंशन स्कीम, अनुबंध कर्मचारी, दिहाड़ीदारों की बल्ले-बल्ले

Himachal Pradesh Budget 2020 में नौकरियां, न्यू पेंशन स्कीम, अनुबंध कर्मचारी, दिहाड़ीदारों की बल्ले-बल्ले

Himachal Pradesh Budget 2020:

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज अपने कार्यकाल का तीसरा बजट पेश कर रहे हैं। CM ने 11 बजे अपना बजट भाषण पढ़ना शुरू किया। तेरहवीं विधानसभा के बजट सत्र में बतौर वित्त मंत्री मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कई नई योजनाएं शुरू करने की घोषणाएं की। इस बजट में ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट के बाद करीब एक लाख करोड़ रुपये के निवेश एमओयू को भी धरातल पर उतारने की घोषणाएं शामिल होंगी।

बजट की घोषणाएं-

20 करोड़ रुपये का कृषि कोष बनाने का प्रस्ताव।
IHBT ने हींग की नई प्रजाति की पहचान की है। इसकी खेती को बढ़ावा दिया जाएगा। केसर उत्पादन पर भी फोकस किया जाएगा।
कृषि संपन्नता योजना की घोषणा।
यहां क्लिक कर लाइव देखें बजटः

2020-21 में एक लाख किसानों को प्राकृतिक खेती के लिए प्रेरित किया जाएगा। 20 हेक्टेयर क्षेत्र पर प्राकृतिक खेती करने का लक्ष्य।
इसके लिए 25 करोड़ का प्रावधान प्रस्तावित।
पशु चिकित्सा सहायकों के 120 पद भरे जाएंगे। दो रुपये दुग्ध मूल्य बढ़ाने की घोषणा।
100 नई ट्राउट इकाइयों का निर्माण किया जाएगा।
पर्वत धारा योजना की घोषणा। इससे भू-जल स्त्रातों का संरक्षण होगा।
ऐसी पंचायत जो तंबाकू सेवन मुक्त हो जाएगी, उसे पांच लाख अनुदान दिया जाएगा।
500 रुपये चौकीदारों का मानदेय बढ़ाने की घोषणा।

नौ महाविद्यालयों को उत्कृष्ट महाविद्यालय बनाने की घोषणा। नौ करोड़ रुपये का प्रावधान।
गणित के लिए 50 स्कूलों में प्रयोगशालाएं बनाने का लक्ष्य।
आईटी शिक्षकों के मानदेय में 10 फीसदी बढ़ोतरी की घोषणा।
जलवाहक छह साल की बजाय अब पांच साल में नियमित होंगे।
मिडडे मील वर्करों का मानदेय 300 रुपए बढ़ाने की घोषणा।
दसवीं के 100 टॉपर्स को आगे की पढ़ाई के लिए एक एक लाख रुपये देने की घोषणा।
क्लस्टर विवि मंडी में आसपास के कॉलेजों को शामिल किया जाएगा।
आशा वर्कर का मानदेय 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा।

60 से अधिक आयु वाले वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त आयुर्वेदिक दवाइयां दी जाएंगी।
शिमला में गंज बाजार अनाज मंडी को टूटीकंडी में स्थापित किया जाएगा।
भूमिहीन और आवास रहित परिवारों की आय सीमा को 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख रुपये किए जाने की घोषणा।
राजस्व विभाग के अंशकालिक कर्मचारियों का मानदेय 300 रुपये मासिक और नंबरदारों का मासिक मानदेय 500 रुपये बढ़ाने की घोषणा।
युवाओं को रोजगार देने के लिए 2020-21 में नौ राजेगार मेले लगाए जाएंगे और 120 कैंपस साक्षात्कार का आयोजन किया जाएगा।
प्रदेश में 2020-21 के लिए सड़क निर्माण और रखरखाव के लिए 3986 करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
उपमंडल स्तर के मान्यता प्राप्त पत्रकारों के लिए एक-एक लैपटॉप देने की घोषणा।
आशा वर्कर, मिडडे मील वर्कर, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को बीमा योजना में लाया जाएगा।
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय 500 रुपये और आंगनबाड़ी सहायिकाओं का मानदेय 300 रुपये बढ़ाने की घोषणा।

बद्दी में विजिलेंस थाने का प्रस्ताव। वर्ष 2020-21 में पुलिस कांस्टेबल के 1000 पद भरे जाएंगे। पुलिस, अग्निशमन विभाग के लिए वर्ष 2020-21 में 1729 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान। 2020-21 में प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों में कुल 20 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी।

न्यू पेंशन स्कीम के वे कर्मचारी जो 22-09-2017 से पूर्व सेवानिवृत हुए हैं के लिए ग्रेच्युटी देने की घोषणा। इससे 5500 से अधिक कर्मचारी को लाभ मिलेगा। इसके लिए 110 करोड़ खर्च किए जाएंगे।

अनबंध कर्मचारियों को अब तक मूल वेतन प्लस ग्रेड पे प्लस ग्रेड पे का 125 फीसदी दिया जा रहा है। इसे 125 फीसदी से बढ़ाकर 150 फीसदी करने के घोषणा। इससे 22 हजार अनुबंध कर्मचारियों को लाभ होगा। 250 रुपये न्यूनतम दिहाड़ी को बढ़कार 275 रुपये प्रतिदिन करने की घोषणा।

50 हजार अतिरिक्त पात्र लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन दी जाएगी तथा विधवा, दिव्यांगजन की पेंशन राशि को 850 रुपये से बढ़ाकर एक हजार रुपये प्रतिमाह किया गया। इससे कुल 1 लाख 75 हजार लोगों को लाभ पहुंचेगा।

News Source: https://www.amarujala.com/shimla/himachal-pradesh-budget-2020-live-updates

Similar Articles

Top