You are here
Home > Entertainment > कंगना रणौत का मामला हिमाचल विधानसभा में गूंजा सीएम ने घर तोड़ने की निंदा की

कंगना रणौत का मामला हिमाचल विधानसभा में गूंजा सीएम ने घर तोड़ने की निंदा की

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में बुधवार यानि आज फिल्म अभिनेत्री कंगना रणौत की सुरक्षा के मुद्दे पर तनातनी हो गई। लगभग दो बजे भोजनावकाश के बाद सदन की कार्यवाही शुरू होते ही निर्दलीय विधायक होशियार सिंह ने अभिनेत्री कंगना रणौत की सुरक्षा तथा उनके मुंबई स्थित कार्यालय को BMC की ओर से तोड़े जाने का मामला उठाया। होशियार सिंह ने कहा कि हिमाचल की बेटी कंगना रणौत ने देश-विदेश में काफी नाम कमाया है।

और उन्हें अब जान से मारने की धमकी मिल रही है। महाराष्ट्र सरकार की कार्रवाई अशोभनीय है। कंगना रणौत को दिए नोटिस के जवाब आने से पहले उनके कार्यालय को तोड़ दिया गया तथा मुंबई हाईकोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई पर स्टे भी लगाया है, परन्तु उससे पहले ही कार्रवाई हो गई। और उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र विधानसभा ने भी कंगना रणौत के खिलाफ प्रीवलेज लाया है।

इसके बाद CM जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की बेटी कंगना रणौत ने तो केवल आवाज उठाई थी। और ऐसे में इस तरह की कार्रवाई करना बिल्कुल गलत है। CM जयराम ठाकुर ने कंगना रणौत का घर तोड़ने की निंदा की। और कहा कि कंगना रणौत की सुरक्षा का ध्यान रखा गया है। और पिछले दिनों कंगना रणौत की बहन ने संपर्क किया और उनके पिता ने लिखित में सुरक्षा की मांग की थी और इन परिस्थितियों को देखते हुए उन्हें घर में सुरक्षा दी गई थी। उन्हें पीएसओ भी दिया गया है। केंद्र सरकार ने उन्हें वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा देते हुए CRPF के 11 कमांडो उनकी सुरक्षा में रखे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि हिमाचल सरकार उनके खिलाफ हो रहे व्यवहार से चिंतित है।

यह भी पढ़े: उद्धव सरकार पर तीखा हमला, कंगना रनौत बोलीं- ‘आज मेरा घर टूटा है, कल तुम्हारा घमंड टूटेगा’

Similar Articles

Top