You are here
Home > kullu > तीन वर्ष की मासूम बच्ची को घर के बरामदे से उठा ले गया तेंदुआ

तीन वर्ष की मासूम बच्ची को घर के बरामदे से उठा ले गया तेंदुआ

हिमाचल प्रदेश में आनी की शिल्ली पंचायत में तीन वर्ष की मासूम बच्ची को तेंदुआ घर के बरामदे से उठा कर ले गया। यह घटना शुक्रवार रात करीब साढ़े आठ बजे की है। बता दे मासूम बच्ची का शव क्षत विक्षत हालत में घर से लगभग दो सौ मीटर दूर बरामद कर लिया गया है। इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है।

Advertisement

शिल्ही पंचायत के उपप्रधान राम कृष्ण ठाकुर ने यह बताया कि बच्ची एक कमरे से आंगन से होकर दूसरे कमरे की ओर जा रही थी। और उसी वक्त घात लगाकर बैठे तेंदुए ने उसे शिकार बनाया। जब तक घरवालों को इसका पता चलता, इतने में तेंदुआ मासूम बच्ची को उठा ले गया। और तेंदुए के पंजों के निशान से इस बात का पता चला। वारदात के समय बिजली अचानक से चली गई, उसी समय ये घटना हुई।

बच्ची को ढूंढने का प्रयास रात को ही किया गया। परन्तु सफलता हाथ नहीं लगी। इस घटना की सूचना स्थानीय लोगों ने वन विभाग को दी। और शनिवार को यानि आज सुबह बच्ची को ढूंढने की फिर से तलाश जारी की गई, तो बच्ची के क्षत विक्षत शरीर के कुछ हिस्से सिर के बाल और बाजू के टुकड़े मिले हैं। इस घटना से क्षेत्र में शोक की लहर है। पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की गई है। शिल्ही पंचायत के उपप्रधान राम कृष्ण ठाकुर ने बताया बच्ची का नाम प्रिया था और वह सुमा गांव के विनोद कुमार की बेटी थी।

सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर भेजी गई । और तेंदुए को पकडऩे के लिए एक पिंजरा भेज दिया गया है । उन्होंने क्षेत्र के सभी लोगों से अपील की है कि वे सावधानी बरतें । और रात को घरों से बाहर न निकलें । डीएसपी आनी अनिल कुमार ने बताया कि मौके पर पुलिस को भेजा गया है , छानबीन करने के बाद बरामद क्षत विक्षत शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा ।

Advertisement

Similar Articles

Top